पाक की फिर नापाक हरकत, गोलीबारी में BSF के 4 जवान शहीद

Rajasthan Khabre | Updated : Wednesday, 13 Jun 2018 01:23:51 PM
4 BSF soldiers killed in firing
Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

जम्मू। पाकिस्तानी आर्मी ने फिर एक नापाक हरकत कर डाली। मंगलवार को फिर से पाकिस्तानी रेंजर्स द्वारा संघर्ष विराम का उल्लघंन किया गया। जम्मू कश्मीर के सांबा जिले में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर पाकिस्तानी रेंजर्स द्वारा गोलीबारी में सीमा सुरक्षा बल (BSF ) के एक सहायक कमांडेंट रैंक के अधिकारी सहित 4 कर्मी शहीद हो गए और 3 अन्य जख्मी हो गए।

दुष्कर्म मामला: दाती महाराज की तलाश जारी, पहले भी पुलिस के हत्थे चढ़ चुके हैं कई बाबा

बीएसएफ (जम्मू फ्रंटियर) के आईजी राम अवतार ने बुधवार ने कहा कि पाकिस्तानी रेंजर्स ने मंगलवार रात रामगढ़ सेक्टर में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर गोलीबारी की। हमने एक सहायक कमांडेंट रैंक के अधिकारी सहित 4 सुरक्षाकर्मियों को खो दिया है जबकि हमारे 3 अन्य जवान जख्मी हो गए हैं। 

रामगढ़ सेक्टर में सीमा पार से गोलीबारी 
उन्होंने बताया कि पाकिस्तानी रेंजर्स तथा BSF हाल ही में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर संघर्ष विराम के लिए सहमत हुए थे लेकिन पाकिस्तानी बल ने सीमा पार से गोलीबारी कर इसका उल्लंघन किया। जम्मू कश्मीर के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) एस पी वैद ने ट्वीट कर घटना पर दुख जताया। हालांकि उन्होंने अपने ट्वीट में घायलों की संख्या पांच बताई। उन्होंने कहा कि जम्मू के रामगढ़ सेक्टर में सीमा पार से गोलीबारी में एक सहायक कमांडेंट सहित BSF के 4 जवान शहीद हो गए और 5 घायल हो गए।

हमारी संवेदनाएं मृतकों के परिजनों के प्रति है। एक बयान में BSF ने बताया कि रात करीब 9 बजकर 40 मिनट पर पाकिस्तानी रेंजर्स ने पोस्ट अशरफ से बीओपी चामलियाल पर बिना उकसावे के गोलीबारी शुरू कर दी। बयान में बताया गया है कि बिना उकसावे की इस गोलीबारी का जवाब देते हुए सहायक कमांडेंट जितेन्द्र सिंह , एसआई रजनीश , एएसआई रामनिवास तथा कांस्टेबल हंसराज शहीद हो गए। 3 अन्य जवान घायल हो गए। BSF के घायल जवानों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। एक पुलिस अधिकारी ने नाम न जाहिर करने की शर्त पर बताया कि रामगढ़ सेक्टर के चमलियाल पोस्ट इलाके में सीमापार से गोलीबारी मंगलवार रात करीब साढ़े 10 बजे शुरू हुई और तडक़े साढ़े 4 बजे तक जारी रही। 

शक की इस वजह ने ले ली दो लोगों की जान, कुछ समझ पाते उससे पहले कर डाला ये...

संघर्ष विराम उल्लंघन की दूसरी बड़ी घटना 
अधिकारी ने बताया कि BSF जवानों ने भी गोलीबारी का जवाब दिया। अंतरराष्ट्रीय सीमा पर इस माह ये संघर्ष विराम उल्लंघन की दूसरी बड़ी घटना है और 29 मई को दोनों देशों के डीजीएमओ के बीच 2003 के संघर्षविराम समझौते को अक्षरश : लागू करने पर राजी होने के बावजूद यह घटना हुई है। गत 3 जून को प्रागवाल , कानाचक और खौर सेक्टर में  अंतरराष्ट्रीय सीमा पर पाकिस्तानी रेंजर्स की भारी गोलाबारी और गोलीबारी में एक सहायक उप निरीक्षक समेत 2 BSF जवान शहीद हो गए थे और 10 लोग जख्मी हो गए थे।

पाकिस्तान द्वारा संघर्ष विराम उल्लंघन की इस ताजा घटना के साथ ही इस वर्ष सीमा पर मृतकों की संख्या 50 पर पहुंच गई है जिनमें 24 जवान शामिल हैं। गत माह 15 मई और 23 मई के बीच पाकिस्तान की ओर से भारी गोलीबारी की वजह से जम्मू , कठुआ और सांबा जिलों में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर रह रहे हजारों लोगों को अपने घरों को छोडक़र जाना पड़ा था। इस दौरान गोलीबारी में 2 बीएसएफ जवान और एक शिशु सहित 12 लोग मारे गए थे और कई अन्य घायल हो गए थे। 

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures
 

Copyright @ 2017 Rajasthankhabre, Jaipur. All Right Reserved.