आरुषि हत्याकांड: हाईकोर्ट का बड़ा फैंसला, तलवार दंपत्ति बरी

Rajasthan Khabre | Updated : Thursday, 12 Oct 2017 03:56:07 PM
Aarushi Murder case : Big decision of High Court, talwar family acquitted

क्राइम डेस्क। उत्तर प्रदेश स्थित गौतम नोएडा में हुए बहुचर्चित आरुषि-हेमराज मर्डर केस में इलाहाबाद हाईकोर्ट गुरुवार 12 अक्टूबर को हाई कोर्ट ने तलवार दंपत्ति को बरी कर दिया।

आरुषि के पिता डॉ. राजेश तलवार और मां डॉ. नूपुर तलवार बेटी व नौकर हेमराज की हत्या के आरोप में उम्रकैद की सजा काट रहे थे। उन्होंने गाजियाबाद सीबीआई कोर्ट के इस फैसले को हाईकोर्ट में चुनौती दी थी। तलवार दंपति की याचिका पर इलाहाबाद हाईकोर्ट में सितंबर 2016 से सुनवाई चल रही थी। 11 जनवरी 2017 को इस इस मामले में सुनवाई पूरी हो चुकी है। 


हाईकोर्ट ने केस में 12 अक्टूबर 2017 को फैसला सुनाने की तिथि निर्धारित की थी। आरुषि व हेमराज की हत्या 15 मई 2008 की रात सेक्टर-25 जलवायु विहार स्थित घर में हुई थी। 16 मई की सुबह आरुषि का खून से लथपथ शव उसके कमरे में बिस्तर पर पड़ा मिला था। 

मौके गायब नौकर हेमराज को पुलिस ने लापता मानते हुए उसे ही हत्या का आरोपी मान लिया था। केस में 17 मई की सुबह तब नया मोड़ आ गया, जब हेमराज का भी खून से लथपथ शव तलवार दंपति के फ्लैट की छत से बरामद हो गया। ये शव नोएडा में तैनात रह चुके पूर्व डीएसपी केके गौतम ने बरामद किया था।

इस मामले में जस्टि‍स श्याम लाल की अदालत ने नवंबर 2013 में डॉ. राजेश तलवार और डॉ. नूपुर तलवार को उम्रकैद की सजा सुनाई। फैसला सुनाये जाने के बाद तलवार दंपति को गाजियाबाद की डासना जिला जेल ले जाया गया। इस मामले में सबूतों को मिटाने के लिए तलवार दंपति को पांच वर्ष की अतिरिक्त सजा व गलत सूचना देने के लिए उन्होंने राजेश तलवार को एक साल की अतिरिक्त सजा सुनाई है। 

महीनों चली लम्बी जिरह के बाद हाईकोर्ट ने बीते जनवरी माह में अपना फैसला सुरक्षित रख लिया। लेकिन आज अदालत ने फैंसला सुनाते हुए तलावार दंपत्ति को रिहा कर दिया।

 
 
Latest News

Copyright @ 2017 Rajasthankhabre, Jaipur. All Right Reserved.