नाबालिग से दुष्कर्म के आरोपी को भुगतनी होगी अब यह सजा

Rajasthan Khabre | Updated : Saturday, 13 Apr 2019 09:46:42 AM
Ten years in jail for minor rape

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

क्राइम डेस्क। हर रोज बलात्कार और हत्या आम होती जा रही है और आजकल ऐसी घटनाऐं हर रोज सामने आती रहती है जिनके चलते मानवता को शर्मसार होना पडता है क्योंकी आजकल के लोग एसी वारदातों को अंजाम देने में बिल्कुल भी नही हिचकिचाते तथा अपनी बेटी समान तथा अपनी माँ समान महिलाओं से भी बलात्कार कर देते है ये घटना एसी होती है जिनको सुनकर सबका दिल दहला जाये और इन घटनाओं को अंजाम देने वाले या तो अपने आस पडोसी या फिर अपना कोई जानकार ही होते है जो इन घटनाओं को अंजाम देते है। ऐसी ही एक बलात्कार की घटना के आरोपी को बिहार में दरभंगा जिले की एक अदालत ने दस साल के सश्रम कारवास की सजा के साथ एक लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया है।

मिली जानकारी के अनुसार पुलिस ने बताया की 24 मार्च 2016 को होली के दिन नाबालिग लड़की अपने घर के बाहर थी। बच्ची को अकेला देख आरोपी जबरन उसके घर में घुसकर उसके साथ दुष्कर्म किया। बच्ची के चिल्लाने की आवाज सुनकर पड़ोस में गई उसकी मां समेत परिवार के अन्य सदस्य पहुंचे लेकिन तब तक आरोपी घर का दिवाल फांद कर फरार हो चुका था। इस सिलसिले में पीड़िता के पिता ने केवटी थाना में 26 मार्च 2016 को एक नामजद प्राथमिकी दर्ज करायी थी।

इसके बाद पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया इसके बाद पुलिस ने आरोपी को अदालत में पेश किया जहां अदालत ने आरोपी को दोषी करार देते हुए भारतीय दंड विधान की धारा 376 के तहत दोषी मानते हुए दस वर्ष का सश्रम कारावास और 50 हजार रुपये अर्थदंड और पोक्सो एक्ट की धारा 06 में दस साल का सश्रम कारावास और 50 हजार रुपये अर्थदंड की सजा सुनाई है। वहीं, अर्थदण्ड भुगतान नहीं करने पर दोनों धाराओं में 2- 2 वर्ष का अतिरिक्त कारावास की सजा भुगतनी होगी।

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

 
loading...
 
Latest News


Copyright @ 2017 Rajasthankhabre, Jaipur. All Right Reserved.