अब चाहिए ड़ॉक्टर की डिग्री तो करना होगा सरकारी अस्पताल में दो साल काम

Rajasthan Khabre | Updated : Friday, 14 Jul 2017 04:51:46
 Now the doctor's degree must be done in a government hospital for two years

चंडीगढ़। हरियाणा के सरकारी मेड़ीकल कॉलेजों से एमबीबीएस करने वाले छात्रों को दो साल तक अब सरकारी कॉलेजों में काम करना होगा। हरियाणा के स्वाथ्य मंत्री अनिल विज ने कहा कि यह राज्य में डॉक्टरों की कमी को कम करने में मदद करेगा। यह प्रावधान इसी साल से एमबीबीएस के लिए होने वाले दाखिलों के प्रोस्पेक्टस में जोड़ा जा रहा है। 

यूजीसी नेट एग्जाम अब 19 नवंबर की जगह 5 नवंबर को

हरियाणा सरकार की पॉलिसी के अनुसार मेडीकल स्टूडेंट्स को बॉन्ड भरना होगा, वरना उन्हे डिग्री नहीं मिलेगी। इससे हरियाणा सरकार को हर साल 800 रेजीडेंट डॉक्टर और जूनियर डॉक्टर मिलेंगे। 

फिलहाल प्राइवेट मेडिकल कॉलेजों को इस फैसले से अलग रखा है, लेकिन बाद में इसे दायरे में लाया जा सकता है सरकार इस बारे में एक्ट बनाने पर विचार भी कर रही है। हरियाणा सरकार का यह फैसला प्रदेश में डॉक्टरर्स की कमी को देखते हुए लिया गया है। 

RAS 2016 अब अभ्यर्थी 15 जुलाई तक भर सकेंगे प्राथमिक क्रम

हरियाणा के स्वास्थय मंत्री अनिल विज का कहना है कि ड़ॉक्टर बनाने में सरकार को काफी पैसा खर्च करना पड़ता है और चूकि वो पैसा जनता का होता है तो उनकी जिम्मेदारी बनती है कि राज्य की जनता की सेवा करें।

 

Copyright @ 2017 Rajasthankhabre, Jaipur. All Right Reserved.