भूलकर भी जलाभिषेक के बाद शिवलिंग पर नहीं करें ये काम, नहीं तो...

Rajasthan Khabre | Updated : Friday, 03 Aug 2018 01:44:13 PM
Do not forget to do this work on Shivling after Jalabhishek
Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

इंटरनेट डेस्क। दोस्तों, आप को पता हैं इस समय भगवान शंकर का सबसे पवित्र माह सावन महीना चल रहा है। एक माह तक चलने वाले इस भगवान शंकर के पवित्र महीने में अगर पूरी भक्ति के साथ पूजा करते है, तो भगवान शिव जल्दी ही हमारी सारी बाधाएं दूर कर देते है। भगवान शिव ऐसे भगवान है, जो बहुत कम भक्ति से ही अपने भक्तों की पूजा—पाठ से प्रसन्न होकर उनकी हर मनोकामना पूरी कर देते है। सावन महीने के इस पवित्र महिने में शिवालयों में सुबह से देर रात्रि तक भीड़ लग जाती है। इन दिनों शिव परिवार का अलग—अलग तरीके से भक्त श्रृंगार करते है। लेकिन आज हम अपने इस आर्टिकल के माध्यम से आपको ये बताने जा रहे हैं कि अगर आप शिवलिंग पर जल चढ़ाते हो तो आपको इन बातों का जरूर ध्यान रखना चाहिए नहीं तो भगवान शिव आपकी भक्ति से नाराज हो जाएगें।

ऐसा बताया गया हैं कि अगर आप शिवलिंग पर जल चढ़ाते हो तो आपको शिवजी की सबसे प्रिय चीजों को अपनी पूजा में शामिल करना चाहिए। शिवजी को धतूरा, आक, बेलपत्र और भांग बहुत प्रिय है तो आपको पूजा करते समय इन चीजों को प्रयोग करना चाहिए। 


जलाभिषेक करते समय लेकिन आपको ऐसी चीजों से दूर रहना होगा जो भगवान ​शिव को पंसद नहीं और अगर आप इसका इस्तेमाल करते हैं तो आपको बहुत बड़ा नुकसान हो सकता है। जलाभिषेक करते समय अगर आप शिवलिंग पर हल्दी लगाते है, तो आपको ये नहीं करना चाहिए। क्योंकि ये भगवान विष्णु और सौभाग्य का प्रतीक मानी जाती है। तुलसी के पत्ते हमारे हिन्दु शास्त्र में बहुत पवित्र माने जाते है। लेकिन शिवलिंग पर कभी भी तुलसी का पत्ता नहीं चढ़ाया जाता क्योंकि भगवान शिव ने तुलसी के पति असुर जलंघर का वध किया था। इस वजह से तुलसी का पत्ता भगवान शिव पर नहीं चढ़ाना चाहिए। 

सावन के पवित्र महीने भक्तगण अपने भोलेनाथ को प्रसन्न करने के लिए कई प्रकार के अनुष्ठान और पूजा करते है। कोई भगवान के दूध का अभिषेक करता है, तो कोई भगवान को गन्ने के जूस से अभिषेक करता है। 

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures
 
 
Latest News

Copyright @ 2017 Rajasthankhabre, Jaipur. All Right Reserved.