..तो ये है दुनिया की सबसे तेज़ चलने वाली 'चीटियां', जो 60 डिग्री तापमान में भी रहती हैं जिंदा !

Rajasthan Khabre | Updated : Friday, 25 Oct 2019 08:26:57 AM
Fastest 'ants' in the world, which live even in 60 degree temperature

इंटरनेट डेस्क। आपने चीटियां तो बहुत देखी होगी ली लेकिन आज हम आपको ऐसी चीटियों के बारे में बताने जा रहे है। जिनके बारे में जानकर आप भी हैरान होंगे। जर्मनी के शोधकर्ताओं ने दुनिया की सबसे तेज चलने वाली चीटियों का पता लगाया है। ये उत्तरी सहारा के रेगिस्तान में पाई जाती हैं। शोधकर्ताओं के मुताबिक, सिल्वर रंग वाली इन चीटियों को सिल्वर ऐंट कहते हैं और ये अपनी शरीर की लंबाई से 108 गुना दूरी एक सेकंड में तय कर लेती हैं। 1.3 मीटर/सेकेंड की रफ्तार से अपना पैर फैलाने वाली ये चीटियां 855 मिलीमीटर/सेकेंड की स्पीड से चल सकती हैं।

शोधकर्ताओं का कहना है कि चीटियों को बारे में जानने के लिए कैमरा लगाकर इन पर नजर रखी गई। चीटियों के बारे जानकारी इकट्ठा करने के लिए शोधकर्ता दक्षिणी ट्यूनीशिया के डाउज पहुंचे। जहां उन्होंने रेत में इन्हें देखा। वीडियो में सामने आया कि ये खाने की तलाश में दोपहर को तपती धूप में निकलती हैं। ये धूप में एक सेकंड में एक मीटर दौड़ती हैं। 

इसके छह पैर हैं और हवा तेज चलने पर इनकी चलने की गति और भी बढ़ जाती है। रेगिस्तान में रहने वाले ज्यादातर जीव दोपहर में तेज धूप के समय रेत में छिप जाते हैं जबकि सिल्वर ऐंट का स्वभाव इसके उलट है। ये दोपहर में और भी ज्यादा तेजी से अपना काम करती हैं। अधिकतम तापमान में ये अपने घोसले से निकलती हैं और भोजन की तलाश शुरू करती हैं। इनके शरीर पर चमकीले बाल पाए जाते हैं जिन्हें सिल्वर हेयर कहते हैं। ये सूरज की किरणों को परवार्तित करते हैं। इसी खूबी के कारण यह 60 डिग्री तापमान में भी खुद को जिंदा रखने में सक्षम हैं। चलने की गति और भोजन ढूंढने की खास स्किल के कारण ये धूप के साइड इफेक्ट होने से पहले अपने घर में लौट जाती है।

बेटी की शादी करना पड़ा भारी, सजा- खिलाना पड़ा गांव को 'मीट और चावल' !
..अब तक दे चुकी है 21 बच्चों को 'जन्म'.. फिर से हुई गर्भवती !
...नहीं रही 'विश्व रिकॉर्ड' बनाने वाली भेड़, शरीर से निकाला गया था 40.1 किलो ऊन !

ये तीन अभिनेता पहली ही फिल्म में हो गए थे फ्लॉप लेकिन आज करते हैं बॉलीवुड पर राज...

loading...

 
loading...
 
Latest News


Copyright @ 2017 Rajasthankhabre, Jaipur. All Right Reserved.