अब शिव सेना को सता रहा है ये डर, तभी तो कर दिया कुछ ऐसा

Rajasthan Khabre | Updated : Friday, 08 Nov 2019 03:32:45 PM
Now this fear is haunting Shiv Sena, that's why it did something like this

इंटरनेट डेस्क। महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर अभी तक सबसे बड़े दल भाजपा और उसकी सहयोगी पार्टी शिव सेना के बीच सहमति नहीं बनी है। दोनों ही पार्टियां अपनी-अपनी मांगों पर अड़ी हुई हैं। 

इस बयान ने ही खत्म कर दिया लालकृष्ण आडवाणी का राजनीतिक जीवन!

अब तो शिव सेना ने भारतीय जनता पार्टी की ओर से विधायकों की खरीद-फरोख्त के डर का सामना करना पड़ा रहा है। तभी तो उसने मुम्बई स्थित रंगशारदा होटल में अपने सभी निर्वाचित विधायकों को शिफ्ट कर दिया है। शिव सेना को डर है कि कही भाजपा उनके विधायकों को खरीदकर अपनी ओर न मिला ले।

जन्मदिन विशेष: लालकृष्ण आडवाणी का वह सपना जो नहीं हो सका पूरा

शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे इन सभी विधायकों के साथ मुलाकात की है। इस दौरान उन्होंने विधायकों से कहा कि पहले तय हुआ था, हमें वह चाहिए। वहीं शिवसेना की ओर मुख्यमंत्री पद के प्रबल दावेदार आदित्य ठाकरे ने भी अपनी पार्टी के विधायकों से मुलाकात की।  

गौरतलब है कि महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री की कुर्सी और मंत्रिमंडल के पदों को लेकर भाजपा और शिवसेना के बीच सहमति नहीं बन पा रही है। इसी बीच खबर ये भी आ रही है कि शिव सेना अपने सभी विधायकों को दूसरी होटल में शिफ्ट करने जा रही है। 
 

loading...

 
loading...
 
Latest News


Copyright @ 2017 Rajasthankhabre, Jaipur. All Right Reserved.