उत्तर प्रदेश में भाजपा के गले की फांस बना सपा-बसपा गठबंधन, अब हो सकता है इतनी सीटों का नुकसान

Rajasthan Khabre | Updated : Saturday, 12 Jan 2019 01:35:13 PM
SP-BSP's coalition alliance

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

इंटरनेट डेस्क। उत्तर प्रदेश मेें भारतीय जनता पार्टी के विजय रथ को रोकने के लिए प्रदेश की दो बड़ी राजनीतिक पार्टियों समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी ने शनिवार को गठबंधन की घोषणा कर दी है। 


राजधानी लखनऊ के एक होटल में आयोजित एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में इन दोनों पार्टियों ने आगामी लोकसभा चुनाव साथ में लडऩे की घोषणा की है। इन चुनावों को लेकर दोनों ही पार्टियों में गठबंधन को लेकर पहले ही सहमति बन गई थी। इस संबंध में बसपा सुप्रीमो सुश्री मायावती और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव के बीच दिल्ली में हुई लंबी बैठक में सीटों के बंटवारे को लेकर भी लगभग आम राय बन गई थी। 

इस संबंध में बसपा सुप्रीमो मायावती ने पार्टी के सभी पदाधिकारियों के साथ 20 जनवरी को बैठक बुलाई है। इसमें मायावती लोकसभा चुनावी रणनीति का खुलासा करेंगी। उत्तरप्रदेश की इन दो बड़ी पार्टियों का गठबंधन बनना सीधे तौर पर भारतीय जनता पार्टी के लिए खतरे की घंटी है। माना जा रहा है कि अब इस गठबंधन के कारण बीजेपी को इस बड़े राज्य में लगभग 50 सीटों का नुकसान हो सकता है। 

वर्ष 2014 में हुए लोकसभा चुनावों में भारतीय जनता पार्टी ने यहां पर बड़ी जीत हासिल करते हुए 80 सीटों में से 71 सीटों पर जीत हासिल की थी। देश के इस बड़े राज्य में उस समय बीजेपी को 42.63 प्रतिशत मत मिले थे। वहीं समाजवादी पार्टी को पांच सीटों से संतोष करना पड़ा था।

मायातवी की बहुजन समाज पार्टी तो जीत का खाता भी नहीं खोल पाई थी। पहले बसपा और सपा के एक साथ आने से यहां पर पहले ही भाजपा को झटका लग चुका है। इससे पहले दोनों पार्टियों ने मिलकर भाजपा को उसके गढ़ गोरखपुर, फूलपुर और कैराना लोकसभा सीटों पर हुए उपचुनाव में शिकस्त दी थी। 
 

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

 
 
Latest News

Copyright @ 2017 Rajasthankhabre, Jaipur. All Right Reserved.