महात्मा गांधी के करीब रहीं इन 3 महिलाओं को लेकर हमेशा फ़ैलाया गया है झूठ, आज जान लें हकीकत

Rajasthan Khabre | Updated : Monday, 02 Dec 2019 04:42:48 PM
These three women who have been close to Mahatma Gandhi, know the truth behind viral affair rumors

महात्मा गांधी का देश को आजादी दिलाने में महत्वपूर्ण योगदान रहा है। इस दौरान उन्होंने देश के हित के लिए कई काम किए हैं जिस से उन्हें काफी जाना जाता है लेकिन उनका नाम कई महिलाओं के साथ भी जोड़ा गया है। लेकिन इन बातों में कितनी सच्चाई है इस बारे में हम नहीं जानते हैं। 

महात्मा गांधी के साथ कुछ महिलाओं की तस्वीरों को हमेशा से ही ग़लत तरीके से पेश किया गया है। आज हम आपको उन तीन महिलाओं के बारे में बताने जा रहे हैं जिनका नाम महात्मा गांधी के साथ जुड़ा और इन बातों में कितनी सच्चाई है?

1. मेडेलीन स्लेड उर्फ़ मीराबेन

मेडेलीन ब्रिटिश एडमिरल सर एडमंड स्लेड की बेटी थीं। मेडेलीन पहली बार फ़्रांसीसी बुद्धिजीवी व लेखक रोमैन रौलेंड के संपर्क में आईं. रोमैन वही शख़्स थे, जिन्होंने महात्मा गांधी की बायोग्राफ़ी लिखी थी। मेडेलिन ने जब महत्मा गांधी की ऑटो बायोग्राफी पढ़ी तो इसका उस पर काफी प्रभाव पड़ा।  इसलिए उसने महात्मा गांधी के नक्शे कदम पर  चलना शुरू कर दिया। उनके जीवन पर महात्मा गांधी का काफी प्रभाव था। अक्टूबर 1925 में वो मुंबई के रास्ते अहमदाबाद पहुंची। उनके और गांधी जी के संबंध बाप बेटी के समान थे और बाद में मेडेलिन का नाम मीराबेन पड़ गया। 

2. सरला देवी चौधरानी

रविंद्रनाथ टैगोर की भतीजी सरला के साथ भी महात्मा गांधी का नाम जुड़ा। एक समय पर इनके अफेयर के चर्चे काफी अधिक थे। लाहौर में गांधी जी सरला के घर पर ही रुके थे। उस समय सरला के पति पति रामभुज दत्त चौधरी जेल में थे। वे स्वतंत्र्ता सेनानी थे। इस दौरान वो गांधी जी के विचारों के चलते उनके क़रीब आ गयीं। 

3. राजकुमारी अमृत कौर

अमृत कौर की महात्मा गांधी के साथ पहली मुलाकात 1934 में हुई। इसके बाद अमृत कौर ने एक-दूसरे को सैकड़ों खत भेजे.उन्हें गांधी की सबसे क़रीबी सत्याग्रहियों में गिना जाता है। इन दोनों का नाम भी आपस में जुड़ा लेकिन इनके बीच ऐसा कोई रिश्ता नहीं था। 

loading...

 
loading...
 
Latest News


Copyright @ 2017 Rajasthankhabre, Jaipur. All Right Reserved.