अब लोग बिना अनुमति नहीं कर सकेंगे ऐसा, किया तो होगी बड़ी कार्रवाई

Rajasthan Khabre | Updated : Thursday, 21 Nov 2019 08:50:52 AM
Now people will not be able to do this without permission

जयपुर। राजस्थान की राजधानी जयपुर (शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों सहित) में अब सार्वजनिक स्थानों पर सामाजिक एवं सांस्कृतिक जुलूस एवं समारोह तथा अन्य आम-जन को प्रभावित करने वाले क्षेत्रों में तीव्र ध्वनि विस्तारक यंत्रों (डीजे सहित सभी ध्वनि विस्तारक यंत्र) का उपयोग निषेध कर दिया है।

भाजपा को नहीं मिला अनुच्छेद 370 और राममंदिर मुद्दों का फायदा

जिला कलक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट जयपुर जगरूप सिंह यादव ने बुधवार को एक प्रकार का एक आदेश कर दिया है। जिला कलक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट जयपुर जगरूप सिंह यादव ने बुधवार को राजस्थान ध्वनि नियंत्रण अधिनियम 1963 की धारा 5 में प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए इस प्रकार के आदेश जारी किए हैं। 

निकाय चुनाव: राजस्थान में फिर से दिखी अशोक गहलोत की जादूगरी

जिला कलक्टर के इस आदेश के अनुसार किसी व्यक्ति, समूह या प्रतिनिधि को किसी भी प्रकार के सामाजिक एवं सांस्कृतिक जुलूस एवं समारोह तथा आमजन में तीव्र ध्वनि विस्तारक यंत्र (डीजे सहित सभी ध्वनि विस्तारक यंत्र) का उपयोग करने के लिए सम्बन्धित उपखण्ड मजिस्टे्रट या पुलिस उपायुक्त की पूर्वानुमति लेनी होगी। किस भी हाल में रात्रि 10 बजे पश्चात् एवं प्रात: 6 बजे के मध्य यह स्वीकृति नहीं दी जा सकेगी। 


आदेशानुसार बिना अनुमति के डीजे प्रयुक्त वाहन को जब्त कर सम्बन्धित वाहन स्वामी के विरुद्ध ध्वनि प्रदूषण नियंत्रण अधिनियम 1963 एवं मोटर वाहन अधिनियम के तहत सम्बन्धित अधिकारी एवं परिवहन विभाग द्वारा (डीजे सहित सभी घ्वनि विस्तारक यंत्र) के सम्बन्ध में नियमानुसार कार्यवाही की जाएगी। 

जिला कलक्टर श्री यादव ने बताया कि ध्वनि प्रदूषण से बुजुर्ग, बीमार व्यक्तियों के स्वास्थ्य पर विपरीत प्रभाव पड़ता है और विद्यार्थियेां एवं प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे परीक्षार्थियों की पढ़ाई प्रभावित हो रही है। इसी कारण ऐसा आदेश जारी किया गया है। 
 

loading...

 
loading...
 
Latest News


Copyright @ 2017 Rajasthankhabre, Jaipur. All Right Reserved.