राजस्थान में गहलोत सरकार ने कर दिया ऐसा काम की जिसके चलते विपक्ष को हो सकती है परेशानी...

Rajasthan Khabre | Updated : Thursday, 03 Jan 2019 06:11:30 PM
Rajasthan government orders to remove Pandit Deendayal's photos and logo from government documents

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

इंटरनेट डेस्क। राजस्थान के नए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सीएम का पद संभालते ही बड़े बड़े फैसले किए है। सबसे बड़ा फैसला जो रहा वो था किसानों की कर्जमाफी का। हालांकि इसके बाद हुई कैबिनेट की पहली बैठक में भी कई फैसले हुए लेकिन जो एक फैसला हुआ उस पर पर आदेश बुधवार को जारी हुए है। इन आदेशों के बाद गहलोत सरकार ने पूर्व वसुंधरा सरकार के फैसले को पटल दिया है।


राजस्थान सरकार ने वृद्धजनों को दिया नए साल का तोहफा, वृद्धावस्था पेंशन में की इतने रुपयों की बढ़ोतरी

जी हां आपकों बता दें की पूर्ववर्ति राजे सरकार ने एक आदेश जारी किया था और उसके अनुसार सरकारी दस्तावेजों और लेटर पैड पर पंडित दीनदयाल उपाध्याय का फोटो और लोगो छपता था। लेकिन अब ये नहीं होगा।

आपको बता दें कि गहलोत कैबिनेट की पहली बैठक में इस बारे में फैसला हो चुका है। जिसके अनुसार अब सरकारी दस्तावेजों और लेटर पैड पर पंडित दीनदयाल उपाध्याय का फोटो और लोगो नहीं छपेगा। 
आपकों जानकारी के लिए बता दें की पूर्व वसुंधरा सरकार के 11 दिसंबर 2017 को इस बारे में आदेश जारी कर सरकारी दस्तावेजों और लेटर पैड पर पंडित दीनदयाल उपाध्याय का फोटो और लोगो छापने का फैसला किया था, जिसे अब गहलोत सरकार ने पलट दिया है। 

राजस्थान में हुआ बड़ा प्रशासनिक फेरबदल, कैलाश वर्मा बने जयपुर के संभागीय आयुक्त

गहलोत कैबिनेट ने अपनी पहली ही बैठक में इस बारे में नीतिगत निर्णय लिया है। इधर सरकार के मुद्रण लेखन एवं सामग्री विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव ने सभी विभागों और कलेक्टरों को इसके आदेश दिए है।

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

 
 
Latest News

Copyright @ 2017 Rajasthankhabre, Jaipur. All Right Reserved.