HomeSearch Result for " lifestyle news "
द्रौपदी उन कन्याओं में थी जिसके 5 पति थे। उसका विवाह 5 पांडवों से हुआ और उसे पांचो पांडवों की पत्नी बनकर पत्नी धर्म निभाना पड़ा। द्रौपदी दिखने में बेहद ही आकर्षक थी और बुद्धिमान व गुणी भी थी।
हस्त रेखा से हम भविष्य में होने वाली बातों के बारे में पहले से जान सकते हैं। इसमें कई जानकारियां छिपी होती है। आप अपनी शादी और बच्चों के बारे में भी हाथ की रेखा से पता लगा सकते हैं। 
इस बात का तो इतिहास भी गवाह है कि एक स्त्री के यौवन के आगे अच्छे खासे ज्ञानी ऋषि मुनियों ने भी हार मानी है। अपने आपको ब्रह्मचारी कहने वाले कई ऋषि मुनि और अन्य लोग स्त्रियों के जाल में फंस चुके हैं;
बेसन का हलवा एक पारंपरिक, मीठा व्यंजन है जो उत्सवों, त्योहारों और पूजा आदि में बनाया जाता है।  इसे बनाना बेहद आसान है। यहाँ पर घर पर ही बेसन का हलवा बनाने की विधि बताई गई है। 
चाणक्य ने अपनी नीतियों में कई बातों के बारे में बताया है। चाणक्य की इन नीतियों को आज भी दुनिया भर के लोग अनुसरण करते हैं। चाणक्य ने जीवों के बारे में भी अपनी नीतियों में उल्लेख किया है। इनमे पक्षी भी शामिल है। आइये जानते हैं चाणक्य ने क्या क्या कहा है?
इतिहास में आम्रपाली एक ऐसी महिला थी जिसकी गिनती सबसे खूबसूरत महिलाओं में होती है। आम्रपाली दिखने में बेहद ही आकर्षक और सुंदर काया वाली थी और उसकी खूबसूरती ऐसी थी कि उसे देख के कोई भी अपने दिल दे बैठे। 
कई बार हम कई तरह के काम करते हैं लेकिन फिर भी हमें सफलता नहीं मिलती है। हम जो भी करने जाते हैं वो गलत ही हो जाता है। ऐसा तब होता है जब किस्मत आपके पक्ष में नहीं होती है।
आचार्य चाणक्य ने नीति ग्रंथ के दूसरे अध्याय के छठे श्लोक में बताया है कि दुश्मनों पर भरोसा नहीं करना चाहिए, लेकिन कुछ बातें ऐसी भी है जो आपको अपने दोस्त को भी नहीं बतानी चाहिए। क्योकिं यदि उस दोस्त से आ
सर्दी का कहर अब लोगों पर खत्म हो चूका है और लोगों को इस से राहत मिली है लेकिन इस बार गर्मी भी काफी अधिक पड़ेगी। मौसम विभाग के अनुसार आने वाले दिनों में लगातार तापमान बढ़ते जाएगा।  इस साल गर्मी ज्यादा होगी और तापमान जल्द ही 45 डिग्री सेल्सियस को छू लेगा।
भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए शिवलिंग पर जल और दूध आदि अर्पण किए जाते हैं। हिन्दू धर्म में भगवान शिव को शिवलिंग के रूप में ही पूजा जाता है। अगर कोई शिवलिंग खंडित हो जाता है तो उसकी पूजा नहीं की जाती और ना ही उसे पूजाकक्ष में रखा जाता है।
loading...

Copyright @ 2017 Rajasthankhabre, Jaipur. All Right Reserved.