Banswara: गेहूं वितरण में अनियमितता पाई जाने पर इन दो उचित मूल्य दुकानदारों पर हुई बड़ी कार्रवाई

 | 
rashan

जयपुर। राजस्थान के बांसवाड़ा जिले में अनियमितता पाए जाने पर दो उचित मूल्य दुकानदारों पर कार्रवाई की गई है। यहां की बागीदौरा तहसील के देवगढ़ ग्राम पंचायत में आमजन को वितरित किए जाने वाले गेहूं में अनियमितता पाए जाने पर दो उचित मूल्य दुकानदारों के प्राधिकार पत्र निलम्बित किए गए हैं।

खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग के शासन सचिव नवीन जैन ने इस बात की जानकारी दी है। उन्होंने बताया कि देवगढ़ ग्राम पंचायत के उपभोक्ताओं से मिली शिकायत के अनुसार उन्हें एक ही बार गेहूं मिला, लेकिन ऑनलाइन जांचने पर उनके नाम से दो बार गेहूं लिया जाना दर्ज पाया गया। 

उन्होंने बताया कि जिले के जिन दो राशन डीलरों के खिलाफ शिकायत मिली वहां प्रवर्तन निरीक्षकों ने जांच कर पाया कि देवगढ़ भाग प्रथम के उचित मूल्य दुकानदार धनपाल ने 23 उपभोक्ताओं को प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना का गेहूं वितरित नहीं किया। साथ ही भौतिक सत्यापन में दुकान पर 9.08 क्विंटल गेहूं कम पाया गया। 

इसी प्रकार देवगढ़ भाग द्वितीय के उचित मूल्य दुकानदार मांगीलाल के गोदाम में 37.48 क्विंटल गेहूं कम मिला। इस संबंध में दोनों ही उचित मूल्य दुकानदारों के विरूद्ध प्रकरण दर्ज कर उनके प्राधिकार पत्र निलम्बित कर दिए गए हैं। इन राशन डीलरों द्वारा पूर्व में कितना गेहूं नहीं बांटा गया इसकी भी जांच उदयपुर के संभाग स्तरीय अधिकारी द्वारा की जा रही है।