Rajasthan में दो साल बाद होंगे छात्रसंघ चुनाव, मुख्यमंत्री Ashok Gehlot ने दी स्वीकृति

 | 
university

इंटरनेट डेस्क। राजस्थान में दो साल बाद छात्रसंघ चुनाव होंगे। इसके लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने हरी झंडी दे दी। विद्यार्थी संगठनों की मांग को देखते हुए एवं विद्यार्थियों में लोकतांत्रिक प्रक्रिया की समझ बढ़ाने के लिए अशोक गहलोत ने ये निर्णय लिया है। अब अगले महीने राजस्थान में छात्रसंघ चुनाव कराए जाने का रास्ता साफ हो गया है। 

ashok gehlot

इस संबंध में अशोक गहलोत ने ट्वीट कर जानकारी दी है। उन्होंने शुक्रवार को ट्वीट किया कि आज के विद्यार्थी ही देश का भविष्य हैं। विद्यार्थी संगठनों की मांग को देखते हुए एवं विद्यार्थियों में लोकतांत्रिक प्रक्रिया की समझ बढ़ाने के लिए विश्वविद्यालयों एवं महाविद्यालयों में छात्रसंघ चुनाव करवाने हेतु विभाग को निर्देश दिए गए हैं।

सभी विद्यार्थी संगठन संबंधित कॉलेज एवं यूनिवर्सिटी की गाइडलाइंस की पालना करते हुए उत्साह से चुनावों में भाग लें। मेरी शुभकामनाएं आप सभी के साथ हैं। गौरतलब है कि प्रदेश सरकार ने 2020 में कोरोना संक्रमण के कारण छात्रसंघ चुनावों पर रोक लगा दी थी।