Relationship tips: शादी के बाद पहली रात में मर्दों को रखना चाहिए इन बातों का ख्याल

 | 
q

हमारे देश भारत में शादी के बाद शारीरिक संबंध बनाने की मान्यता शुरू से चली आ रही है। जब शादी के बाद पहली बार कोई लड़की अपनी ससुराल आती है तो उसके मन में पहली रात यानि सुहागरात को लेकर कई ख्याल आते हैं। इस रात के, लिए रोमांच के साथ-साथ डर भी रहता है। ऐसे में एक पति को चाहिए कि अपनी पत्नी को शारीरिक संबंध बनाने पहले सहज महसूस कराएं। इसके अलावा कुछ ऐसी बातें हैं जिनके बारे में आपको जान लेना चाहिए। 

सुहागरात में प्राइवेसी बहुत जरूरी
सबसे पहले तो सुहागरात के दिन प्राइवेसी का पूरा ख्याल रखना चाहिए। वैसे जगह का चुनाव करना चाहिए जहां आप दोनों के अलावा कोई न हो जिससे खलल ना पड़ें। पापा के घर से आई पापा की परी अपने आपको सुरक्षित और चिंतामुक्त महशूश करे। क्योंकि दुल्हन पहली रात को काफी डरी और संकोच से भरी होती है। ऐसे में उसे हर दस्तक डरा देती है। दूल्हे मियां को सुनिश्चित करना चाहिए कि सुहागरात के दिन दुल्हन के साथ बस उसका साथ हो।

a

दुल्हन के साथ सहजता बरतें
दुल्हन के साथ दूल्हे को पहली रात को सहजता बरतनी चाहिए। उससे बातचीत करना चाहिए। उससे यह एहसास दिलाना चाहिए कि ये भी घर उसका है। वो हर पल उसके साथ खड़ा रहेगा। लड़की अपने पति में पापा की झलक देखती है। जैसे पापा अपनी लाडली को पैम्पर करते हैं वैसे ही पति को अपनी पत्नी का ख्याल रखना जरूरी होती है। सुहागरात के दिन पति को अपनी पत्नी भरोसा जीतने की कोशिश करना चाहिए।

यौन सुरक्षा का भी ख़याल रखें 
शादी की पहली रात को पुरुष इतने बेकाबू हो जाते हैं कि वो यौन सुरक्षा का ख्याल नहीं रखते हैं। लेकिन प्रोटेक्शन जरूरी होता है। ये न केवल किसी प्रकार की संभावित चिंता से दूर रखेगा बल्कि कई तरह की एसटीडी से भी सुरक्षित रखेगा। 

a

पार्टनर के भाव को जानें
पहली रात पत्नी के साथ तभी शारीरिक संबंध बनाएं जब वो भी इसके लिए सहमति जताए। सहमति के साथ शारीरिक संबंध असल में संबंध होता है। नहीं तो वो जबरदस्ती के दायरे में आती है। अपने हमसफर की भावना को समझे और पूछे कि क्या वो इसके लिए राजी है। अगर उसकी हामी होती है तभी आगे बढ़े नहीं तो पहले एक दूसरे को समझे और फिर नए रिश्ते की शुरुआत करें।