Utility News : मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के आवेदकों को मिला एक और अवसर, अब नहीं किया ऐसा तो निरस्त हो जाएगा आवेदन पत्र

 | 
sje

जयपुर। मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के तहत पोर्टल द्वारा स्वत: निरस्त हुए आवेदन पत्रों को आक्षेप पूर्ति करने का सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग द्वारा एक अवसर और प्रदान किया गया है। विभाग के अतिरिक्त निदेशक, सामाजिक सुरक्षा, एस एल पहाडिय़ा ने इस बता की जानकारी दी है। 

sje

उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के तहत जिन आवेदकों के आवेदन पत्रों में आक्षेप हैं, वे आवेदक शीघ्र ही आक्षेप पूर्ति करवाकर पोर्टल के माध्यम से अपने आवेदन पत्र को ऑनलाइन फारवर्ड करावे, अन्यथा आक्षेप पूर्ति नहीं करवाने पर उनका आवेदन पत्र निरस्त हो जाएगा।

उन्होंने बताया कि पोर्टल द्वारा आक्षेपित आवेदकों को पोर्टल पर पंजीकृत मोबाइल नंबर पर 90 दिवस में 6 बार अलर्ट मैसेज भेजे जा रहे हैं, इन सबके बावजूद भी आवेदकों द्वारा आक्षेपों की पूर्ति नहीं की जा रही है।

sje

आवेदकों के निवेदन पर पोर्टल पर स्वत: निरस्त हुए आवेदन पत्रों को एक बार पुन: आक्षेपित सूची में प्रदर्शित कर आवेदकों को एक और अवसर प्रदान किया गया है, ताकि वे योजना से लाभान्वित हो सके। पहाडिय़ा ने बताया कि यदि इस बार भी आवेदकों द्वारा आक्षेपों की पूर्ति नहीं की गई तो उनके आवेदन निरस्त हो जाएंगे, जिसकी जिम्मेदारी स्वयं आवेदकत्र्ता की होगी।