Utility News : आरबीआई ने ऑफलाइन भुगतान को दी अनुमति, नहीं होगी नेट की आवश्यकता!

 | 
rbi

इंटरेनट डेस्क। भारतीय रिजर्व बैंक ने गांवों और कस्बों में डिजिटल लेनदेन को बढ़ावा देने के लिए अब एक बड़ा कदम उठाया है। आरबीआई की ओर से सोमवार को एक ऐसी रूपरेखा जारी की है जिसके तहत प्रति लेनदेन दो सौ रुपए तक के ऑफलाइन भुगतान की अनुमति होगी। इसकी कुल सीमा दो हजार रुपए तक होगी।

rbi

इस प्रकार के भुगतान के लिए व्यक्ति को इंटरनेट या दूरसंचार कनेक्टिविटी की आवश्यकता नहीं होती है। ऑफलाइन तरीके में भुगतान आमने-सामने किसी भी माध्यम मसलन कार्ड, वॉलेट और मोबाइल उपकरणों से हो सकता है। भारतीय रिजर्व बैंक ने इस संबंध में कहा कि इस प्रकार की लेनदेन के लिए अतिरिक्त सत्यापन कारक की जरूरत नहीं होगी।

rbi

भुगतान ऑफलाइन होने के कारण ग्राहकों को एसएमएस या ई-मेल के माध्यम से अलर्ट कुछ समय अंतराल बाद ही मिल सकेगा। सितंबर, 2020 से जून, 2021 के दौरान देश के विभिन्न हिस्सों में पायलट आधार पर ऑफलाइन लेनदेन को प्रारम्भ किया गया था। इस पर मिली प्रतिक्रिया के तहत ये रूपरेखा बनाई गई है।