Utility News : वाहन बेचने के बाद भी चालू है आपका FASTag खाता, तो झेलना पड़ेगा बड़ा नुकसान, जानें

 | 
fastag

इंटरनेट डेस्क। देश भर में अब FASTag अनिवार्य हो चुका है। साल 2021 में केन्द्रीय सडक़ परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने टोल प्लाजा पर समय बचाने के लिए इसे अनिवार्य किया था। इसका उपयोग सभी फोर व्हीलर और कामर्शियल व्हीकल्स पर किया जाता है। ये आपके बैंक खाते से लिंक होता है जिससे टोल टैक्स आपके अकाउंट से कट जाता है। 

fastag

अगर आपने अपने वाहन को FASTag करवाने के बाद बेच दिया है तो आपके लिए इसे ब्लॉक करवाना बहुत ही जरूरी है। अन्यथा आपको तगड़ा नुकसान झेलना पड़ेेगा। पुराने वाहन को FASTag कैंसिल करवाए बिना ही बेचने पर जब ये वाहन टोल से गुजरेगा तो आपके खाते से टोल टैक्स कट जाएगा।

fastag

इसी कारण वाहन को बेचते समय FASTag को जरूर ही ब्लॉक करवा देना चाहिए। ऑथिराइज्ड इशूअर या बैंक से खरीदे जाने के कारण FASTag आपके बैंक अकाउंट से लिंक होता है। वाहन बैचने के बाद आप केंद्र सरकार के हेल्पलाइन नंबर 1033 पर कॉल करके FASTag को ब्लॉक करवा सकते हैं। वहीं सर्विस प्रोवाइडर के कस्टमर केयर पर कॉल करके भी इसे ब्लॉक करवाया जा सकता है।