Fatehpur: स्वास्थ्यकर्मी ने सरकारी आवास में फांसी लगाकर आत्महत्या की

Rajasthan Khabre | Updated : Tuesday, 27 Oct 2020 11:14:17 AM
Health worker commits suicide by hanging in government house

फतेहपुर। फतेहपुर जिले के बिदकी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (सीएचसी) में कार्यरत एक चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी ने सोमवार को अस्पताल परिसर के अपने सरकारी आवास में पंखे में रस्सी बांधकर कथित रूप से फांसी लगा ली । इस सिलसिले में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (सीएचसी) के अधीक्षक व एक अन्य चिकित्सक के खिलाफ कथित रूप से आत्महत्या के लिए बाध्य करने का मामला दर्ज किया गया है।

 

बिदकी कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक (एसएचओ) सत्येन्द्र सिह ने मंगलवार को बताया कि ’’बिदकी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (सीएचसी) में कार्यरत चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी नरेश कुमार (45) ने सोमवार सुबह करीब 1० बजे अस्पताल परिसर में बने अपने सरकारी आवास की छत में लगे पंखे में रस्सी बाँधकर फांसी का फंदा लगा लिया, जिससे उसकी मौत हो गई।’’

ðसह ने बताया कि ’’इस सिलसिले में मृत स्वास्थ्यकर्मी के एक परिजन की तहरीर पर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (सीएचसी) के अधीक्षक डॉ. सुनील चौरसिया और एक अन्य चिकित्सक डॉ. अनूप पटेल के खिलाफ उसे (स्वास्थ्यकर्मी को) आत्महत्या के लिए बाध्य करने के लिए भारतीय दंड संहिता की धारा-3०6 और अनुसूचित जाति जनजाति निवारण अधिनियम (एससी एसटी एक्ट) के तहत देर रात एक मामला दर्ज किया गया है। फिलहाल अभी किसी आरोपी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। मामले की जांच की जा रही है।’’

एसएचओ ने बताया कि ’’पुलिस की सूचना पर पहुंचे मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) और बिदकी के उप जिलाधिकारी (एसडीएम) ने मौके का मुआयना किया है। इसके बाद शव पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया।’’ उन्होंने बताया कि ’’मृत स्वास्थ्यकर्मी अपने सरकारी आवास में अकेले ही रहता था। वह सोमवार को फतेहपुर शहर के हरिहरगंज मुहल्ले में स्थित अपने निजी आवास से यहां सुबह करीब साढ़े नौ बजे आया था और कुछ ही देर बाद उसने फांसी लगा ली। उसकी पत्नी और बच्चे फतेहपुर के निजी आवास में ही रहते हैं।’’ (एजेंसी)   


 
loading...



 
Latest News


Copyright @ 2017 Rajasthankhabre, Jaipur. All Right Reserved.