Sugarcane की मिठास हुई कम, घट सकता है चीनी उत्पादन

Rajasthan Khabre | Updated : Saturday, 21 Nov 2020 03:19:48 PM
Sugarcane's sweetness reduced, sugar production may decrease

सहारनपुर। पश्चिमी उत्तर प्रदेश में इस बार के चीनी मिलों के पेराई सत्र में चौकाने वाली बात सामने आई है कि अबकी गन्ने में चीनी की मिठास कम हुई है।

 

जिला गन्नाधिकारी कृष्णमोहन मणि त्रिपाठी और कृषि विज्ञान केंद्र सहारनपुर के प्रभारी डा. आई के कुशवाहा ने शनिवार को बताया कि इस बार गन्ने में चीनी का परता पिछले वर्षों की तुलना में एक फीसद कम हुआ है। इसका असर चीनी उत्पादन पर भी पड़ेगा। जाहिर है गन्ने में शुगर की मात्रा कम होने से पिछले वर्ष की तुलना में चीनी उत्पादन में गिरावट आएगी।

जिला गन्नाधिकारी ने बताया कि पिछले वर्ष 2०19-2० में नवंबर माह में गन्ने में चीनी का परता 9.61 प्रतिशत था। 2०18-19 में 9.38 था और 2०17-18 में 9.37 प्रतिशत था। इस बार मौजूदा पेराई सत्र में गन्ने में चीनी का परता 8.87 प्रतिशत दर्ज किया जा रहा है।

इस बारे में कृषि वैज्ञानिक आईके कुशवाहा का कहना था कि पोक्का बोईंग, टाप बोरर, रेड राट आदि बीमारियों और खेतों की मिSी में जीवांस कार्बन और सूक्ष्म पोषक तत्वों की कमी से गन्ने में मिठास कम हुई है। आने वाले दो-महीनों के दौरान गन्ने में चीनी की मिठास में वृद्धि संभावित है। उन्होंने किसानों से अपील की कि वे गन्ने में लगी बीमारियों का उपचार करें और फसल पर जरूरी कीटनाशकों दवाओं का छिड़काव करें।(एजेंसी)   


 
loading...



 
Latest News


Copyright @ 2017 Rajasthankhabre, Jaipur. All Right Reserved.