Ajab-GaJab: 1965 की भारत-पाकिस्तान जंग में देखने को मिला था तनोट माता का चमत्कार, मंदिर परिसर में नहीं फटे थे 450 बम 

Rajasthan Khabre | Updated : Friday, 08 Oct 2021 02:42:21 PM
Ajab-GaJab: The miracle of Tanot Mata was seen in the Indo-Pakistan war of 1965

इंटरनेट डेस्क। राजस्थान में माता के अनेक प्रसिद्ध मंदिर है। उन्हीं में से एक जैसलमेर से करीब 130 किलो मीटर दूर भारत-पाकिस्तान बॉर्डर पर स्थित तनोट माता का मंदिर भी है। ये मंदिर देश ही नहीं विदेशों में भी बहुत ही प्रसिद्ध है। 

 

सीमा सुरक्षा बल की देखरेख में इस मंदिर में प्रतिदिन भारतीय सेना के जवान ही पूजा अर्चना करते हैं। तनोट माता का चमत्मकार साल 1965 की भारत और पाकिस्तान की जंग में देखने को मिला था।  इस दौरान पाकिस्तानी सेना ने माता के मंदिर पर सैकड़ों बम गिराए, लेकिन ये बम फटे नहीं। भारत-पाकिस्तान बॉर्डर पर स्थित माता के इस चमत्कारिक मंदिर का निर्माण लगभग 1200 साल पहले किया गया था।  

बताया जाता है कि साल 1965 की भारत-पाक लड़ाई पाकिस्तानियों ने इस मंदिर परिसर में बम गिराए थे। इनमें से 450 बम फटे ही नहीं। ये बम आज भी मंदिर परिसर में बने एक संग्रहालय में पर्यटकों के लिए रखे हुए हैं। 
 


 



 
Latest News

Copyright @ 2017 Rajasthankhabre, Jaipur. All Right Reserved.