Offbeat: क्या पांडवों ने सच में खाया था अपने मृत पिता का मांस, जानिए सच्चाई

Rajasthan Khabre | Updated : Wednesday, 23 Sep 2020 02:14:37 PM
Did the Pandavas really eat the flesh of their dead father, know the truth

महाभारत से जुड़े ऐसे कई रहस्य हैं, जिनके बारे में आपको जानकारी नहीं होगी। एक ऐसे ही रहस्य के बारे में हम आपको बताने जा रहे हैं। ऐसा माना जाता है कि पांडवों ने अपने पिता की मृत्यु के बाद उनकी लाश का मांस खाया था। लेकिन उन्होंने ऐसा क्यों किया, इसी बारे में हम आपको बताएंगे। 

 

ये बताया जाता है कि पांडवों के पिता पांडु को किसी ऋषि ने श्राप दिया था कि अगर वो किसी भी स्त्री से शारीरिक संबंध बनाएगा तो उसकी मृत्यु हो जाएगी। इसलिए उन्होंने अपनी पत्नी कुंती और माद्री से शारीरिक संबंध नहीं बनाए थे, लेकिन कुंती को ऋषि दुर्वासा ने वरदान दिया था कि वो किसी भी देवता का आह्वान करके उनसे संतान प्राप्ति का वरदान मांग सकती हैं। 

पांडु के कहने पर कुंती ने एक-एक कर कई देवताओं का आह्वान किया। माद्री ने भी देवताओं का आह्वान किया और इसी तरह कुंती को तीन पुत्र युधिष्ठिर, भीम और अर्जुन मिले और माद्री को दो पुत्र नकुल और सहदेव मिले। लेकिन पाण्डु एक बार खुद पर नियंत्रण नहीं रख सके और उन्होंने माद्री से शारीरिक संबंध बना लिए। ऐसे में ऋषि के शाप के अनुसार महाराज पांडु की मृत्यु हो गई। 

उनकी मौत के बाद उनके मृत शरीर का मांस पाँचों भाइयों ने मिल-बांट कर खाया था। वे असल में पांडु के पुत्र नहीं थे इसलिए पांडु का ज्ञान और कौशल उनके बच्चों में नहीं आ पाया था। इसलिए उन्होंने अपनी मर्त्यु से पहले ये वरदान माँगा था कि उनके पुत्र उनके मांस को खाए जिस से उनका ज्ञान अपने पुत्रों में आ सके। 

पांडवों द्वारा अपने पिता का मांस खाया जाने को लेकर 2 तरह की मान्यता है। पहली ये कि पिता के मांस का सबसे ज्यादा हिस्सा सहदेव ने खाया था, जबकि एक अन्य मान्यता के अनुसार सिर्फ सहदेव ने पिता की इच्छा का पालन करते हुए उनके मस्तिष्क के तीन टुकड़े खाए थे। जिस से उसे इतिहास का ज्ञान हुआ था। पहला टुकड़ा खाने से उसे भूतकाल, दूसरे से वर्तमान और तीसरा टुकड़ा खाने से भविष्य देख पाने का ज्ञान प्राप्त हुआ था। 

कहा जाता है कि सहदेव ने पहले ही महाभारत का युद्ध देख लिया था। ऐसे में श्री कृष्ण को डर था कि कहीं सहदेव यह सब बातें किसी और को न बता दें, इसलिए उन्होंने सहदेव को शाप दिया था कि अगर उसने ऐसा किया तो मृत्यु हो जायेगी।


 
loading...

 
Latest News


Copyright @ 2017 Rajasthankhabre, Jaipur. All Right Reserved.