Offbeat: द्रौपदी के जीवन से जुड़े ये राज जानकर आपके भी उड़ जाएंगे होश

Rajasthan Khabre | Updated : Monday, 14 Sep 2020 11:53:33 AM
secrets related to draupadi you may not know about

महाभारत के अनुसार, द्रौपदी पांचाल के राजा द्रुपद की बेटी थी, और एक यज्ञ अग्नि कुंड से निकली थी। पांच पांडव भाइयों की पत्नी के रूप में, वह अपनी सुंदरता के लिए प्रसिद्ध थी। उसने दुर्योधन और अन्य कौरवों द्वारा सबके सामने अपमानित होने के बाद अपने दुश्मनों को राख में बदल दिया था। 

 

द्रौपदी बेहद सुंदर होने के साथ साथ गुणवती और रूपवती भी थी।  यह अविस्मरणीय नायिका शक्ति और भावना, वीरता और सदाचार में किसी भी तरह से भीम या अर्जुन से कम नहीं थी। उसकी कहानी दुख और अपमान की गाथा है, लेकिन आज हम आपको द्रौपदी से जुड़ी कुछ ऐसी बातों के बारे में बताने जा रहे हैं जिसके बारे में आपको जानकारी नहीं होगी। 

द्रौपदी ने भगवान शिव से अपने पिछले जन्म में एक ऐसे पति की कामना की थी जिसमे न्यायशील, शक्तिशाली, धनुर्विधा में परिपूर्ण, सुंदर और सहिष्णुता जैसे गुण हो और भगवान शिव ने उसे पाँचों गुणों वाले एक एक वर की प्राप्ति का वरदान दिया था। 

द्रौपदी को धनुष और बाण चलाना बेहद पसंद था और वो इस में पारंगत थी। 

द्रौपदी के पास एक चमत्कारी लकड़ी का कटोरा था जो खाने से भर जाता था। पांडवों के बुरे समय में ये कटोरा उनके बेहद काम आया था। 

द्रौपदी को उसके पिता द्वारा जीवन भर गमों में डूबे रहने का शाप मिला था। 

द्रौपदी के साथ समय बिताने के लिए पांडवों ने निर्णय लिया था कि वह 1-1 साल तक प्रत्येक पांडव के साथ रहेगी और उनके बच्चों को जन्म देगी। 

कहा जाता है कि द्रौपदी पाँचों पांडवों में से सबसे अधिक प्रेम अर्जुन से करती थी लेकिन अर्जुन कृष्ण की बहन सुभद्रा से सबसे अधिक प्रेम करता था जो उसकी दूसरी पत्नी थी। 


 
loading...

 
Latest News


Copyright @ 2017 Rajasthankhabre, Jaipur. All Right Reserved.