तो इसलिए हनुमान जी को कहा जाता है पवनपुत्र, जानिये उनके जन्म की रहस्यमयी कहानी

Rajasthan Khabre | Updated : Wednesday, 28 Apr 2021 09:16:46 AM
So that why Hanuman ji is called Pawanaputra Know the mysterious story of his birth

न्यूज डेस्क। सनातन धर्म को मानने वाले लोग हनुमान जी को बहुत मानते है क्योंकी श्रीराम भक्त हनुमान अपने भक्तों पर सदा अपनी कृपा बरसाते रहते हैं उनकी शक्ती और चमत्कार आज भी उनके भक्तों को देखने को मिल जाती है लेकिन क्या आपको पता है की उनके पिता कोन थे अगर ऩहीं तो चलिए आज जानते हैं की हनुमान जी की पिता कौन थे।

 

वैसे तो हनुमान जी को भगवान शिव का अंश अवतार माना जाता है वाल्मीकि की रामायण के अनुसार हनुमान जी के पिता केसरी थे लेकिन एक बार अंजना और केसरी पुत्र होने की लालसा में भगवान शिव की तपस्या की थी जिससे भगवान शिव प्रसन्न होकर उन्हें पुत्र होने का वरदान दिया था।

एक दिन अंजना अपनी पूजा कर रही थी तभी उनके कान में भगवान वायू प्रवेश कर गए और उन्हें इससे मां अंजना का गर्भवती कर दिया इसके बाद ही हनुमान जी का जन्म हुआ इसलिए ही उन्हें पवनपुत्र हनुमान कहा जाता है।


 
loading...



 
Latest News


Copyright @ 2017 Rajasthankhabre, Jaipur. All Right Reserved.