SP ने किसानों के विधेयक का किया विरोध

Rajasthan Khabre | Updated : Friday, 25 Sep 2020 02:34:56 PM
SP opposes farmers' bill

प्रयागराज।  समाजवादी पार्टी (सपा) ने किसान एवं श्रमिक विधेयक का विरोध करते हुए इसे वापस लेने और राज्य में लागू नहीं करने की राज्यपाल से मांग को लेकर अपर जिलाधिकारी (नगर) अशोक कंनौजिया से मुलाकात कर ज्ञापन सौंपा। सपा का एक प्रतिनिधि मंडल जिलाध्यक्ष योगेश चन्द्र यादव एवं महानगर अध्यक्ष सैयद इफ्ते.खार हुसैन के नेतृत्व में शुक्रवार को राज्यपाल के लिए अपर जिलाधिकारी (नगर) अशोक कंनौजिया प्रयागराज से मिला और ज्ञापन सौंपा1

 

जिलाध्यक्ष योगेश चन्द्र ने कहा कि राज्यपाल के नाम संबोधित ज्ञापन में कहा गया है कि केन्द्र एवं प्रदेश की भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकारों की नीतियों से किसानों और श्रमिकों को गहरा आघात लगा है। इससे सिर्फ कार्पोरेट घरानों को फायदा होगा। खेती पूरी तरह से बर्बाद हो जाएगी और श्रमिक बंधुआ मजदूर बन कर रह जाएगा।

उन्होने आरोप लगाया कि भाजपा किसानों से उनका मालिकाना हक छीन कर पूंजीपतियों को देना चाहती है। नए कृषि विधेयक से न्यूनतम समर्थन मूल्य(एम एस पी) सुनिश्चित करने वाली मन्डिया .खत्म हो जाएंगी। किसानो को लाभ तो दूर उपज का उचित मूल्य नहीं मिलेगा। उन्होने आशंका जताई है कि फसलों को वस्तु अधिनियम से बाहर किए जाने से आढèतियों और बड़े व्यापारियों को किसानों का शोषण करना आसान हो जाएगा जिससे किसान आत्महत्या के लिए मजबूर हो जाएगा।

सपा ने आरोप लगाया है कि चुनाव के दौरान भाजपा नेतृत्व द्बारा किसानों, मजदूरों के हितों के लिए किए गए वादे झूठे साबित हो रहे हैं। राज्यपाल से आग्रह किया गया है कि कानूनों को वापस लिया जाय और राज्य में इसे लागू नहीं होने दिया जाय। सपा नेताओं ने स्थानीय स्तर पर धान की खरीद के लिए प्रबंध करने, रबी की बुवाई के लिए यूरिया, डी ए पी खाद सहित बीज एवं दवाओं की उपलब्धता सुनिश्चित करने, विद्युत आपूर्ति में सुधार लाने, लॉक डाउन के दौरान विद्युत बिल माफ करने, स्कूलों की फीस माफी आदि मुद्दे के समाधान की भी मांग की है। (एजेंसी)


 
loading...

 
Latest News


Copyright @ 2017 Rajasthankhabre, Jaipur. All Right Reserved.