Ajab-Gajab: भारत के इस गांव में दुल्हन को विधवा के लिबास में घर से दी जाती है विदाई, कारण जानकर हैरान रह जाएंगे आप

 | 
merige

 इंटरनेट डेस्क। भारत में कई परम्पराएं और नीति-रिवाज निभाए जाते हैं। उनमें से कुछ का तो मौजूदा समय में कोई औचित्य नहीं है। भारत में शादी के दौरान दुल्हन लाल जोड़े में ही सजती हैं। लाल रंग को सुहाग का रंग समझा जाता है। जबकि सफेद रंग को विवाह के अवसर पर पहनना अशुभ माना जाता है। 

merige

आज हम भारत के एक ऐसे गांव के बारे में जानकारी देने जा रहे हैं जहां पर दुल्हन को विधवा के लिबास में घर से विदाई दी जाती है। ऐसा रिति रिवाज मध्य प्रदेश के मंडला जिले के भीमडोंगरी गांव में निभाया जाता है। यहां पर आदिवासी समाज के लोगों द्वारा शादी के बाद लडक़ी को सफेद कपड़ों में विदा किया जाता है। आपको जानकर हैरानी होगी कि विवाह समारोह में शामिल हर व्यक्ति सफेद लिबास ही पहनता है। 

merige

इस गांव के आदिवासी समुदाय के लोगों द्वारा गौंडी धर्म का पालन किया जाता है। इस धर्म में सफेद रंग को शांति का प्रतीक माना जाता है। इसी कारण दुल्हन को सफेद कपड़ों में विदा किया जाता है।