Ajab-Gajab: तो बंदर नहीं ये जीव है मनुष्यों का पूर्वज! वैज्ञानिकों ने किया खुलासा

 | 
monkey

इंटरनेट डेस्क। बंदरों को मनुष्य के पूर्वज माना गया है, लेकिन इस संबंध में अब वैज्ञानिकों ने एक चौंकोने वाला खुलासा किया है। वैज्ञानिकों की ओर से 100 साल से भी पहले एक अनोखे जीवाश्म की खोज की गई थी। इस समय बिना दांत वाली ईल जैसे एक जीव के अवशेष मिले थे, जिसे पैलियोस्पोंडिलस गुन्नी नाम दिया गया था।

m

अब वैज्ञानिकों ने हाई-रिजॉल्यूशन इमेजिंग का प्रयोग कर बड़ा खुलासा किया है। इसके माध्यम से उन्होंने माना कि मनुष्य के सबसे पुराने पूर्वजों में से ये रहस्यमयी मछली एक हो सकती है। इस प्रकार का नया रिसर्च नेच जर्नल में प्रकाशित हुआ है। 

m

टोक्यो यूनिवर्सिटी में जीवाश्म विज्ञानी और शोध के लेखक तत्सुया हिरासावा ने बताया है कि ये मछली केवल 2.4 इंच की है। वैज्ञानिकों ने जानकारी दी कि  पैलियोस्पोंडिलस मध्य देवोनियन युग में मिलती थी। देवोनियन युग करीब 39.8 से 38.5 करोड़ साल आया था। इस मछली में हाथ-पैर के साथ दांत भी नहीं थे। हालांकि पंख अच्छी प्रकार से विकसित थे।