Offbeat: राजस्थान के इस शिव मंदिर में चारों काल में बदलता है भगवान का स्वरूप, ये बात जानकर आपको भी होगी हैरानी

 | 
shiv m

इंटरनेट डेस्क। सावन का महीना शुरू हो चुका है। इस महीने में शिव मंदिरों में भक्तों का ताता लगा रहेगा। आज आपको राजस्थान के एक चमत्कारिक मंदिर के बारे में जानकारी देने जा रहे हैं।

shiv

हम आज जिस मंदिर के बारे में जानकारी देने जा रहे हैं वह झीलों की नगरी उदयपुर में स्थित भगवान महाकालेश्वर मंदिर है। फतेहसागर झील के किनारे स्थित ये मंदिर दुनिया में बहुत ही प्रसिद्ध है। बताया जाता है कि उदयपुर में स्थित भगवान शिव का ये मंदिर करीब 900 साल पुराना एकलिंग जी के समकालीन का मंदिर है। 

shiv

इस मंदिर में भक्तों को भगवान के अलग-अलग स्वरूपों के दर्शन होते हैं। बताया जाता है कि मंगला दर्शन के समय भगवान बाल स्वरूप, मध्याह्न दर्शन में युवा, सायंकाल में पूर्ण विग्रह और रात को वृद्ध विग्रह के स्वरूप में दर्शन देते हैं। आपको जानकर हैरानी होगी कि इस मंदिर में शिवलिंग का रंग भी चारों काल में अलग-अलग स्वरूप में बदला हुआ होता है। इस मंदिर में भक्तों का ताता लगा रहता है।