उदयपुर के बाद अब बृज के कामा क्षेत्र में भी गहलोत सरकार की घोर लापरवाही सामने आई है: Vasundhara Raje

 | 
raje

जयपुर। राजस्थान में डीग क्षेत्र में खनन पर रोक लगाने की मांग को लेकर साधु-संतों द्वारा आंदोलन किया जा रहा है। बुधवार को यहां पर एक साधु द्वारा आत्मदाह करने का प्रयास किया गया। इसको लेेकर पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने प्रदेश की अशोक गहलोत सरकार पर निशाना साधा है। 

उन्होंने इस संबंध में ट्वीट किया कि ये कैसी विडम्बना है कि रोक के बाद भी वहां अवैध खनन हो रहा है और साधु-संतों को आवाज उठानी पड़ रही है? राज्य सरकार ने यदि इस विषय को गंभीरता से लिया होता तो आज ये स्थिति नहीं होती। इसके लिए पूरी तरह से राज्य की गहलोत सरकार जिम्मेदार है!

उदयपुर के बाद अब बृज के कामा क्षेत्र में भी गहलोत सरकार की घोर लापरवाही सामने आई है। यहां अवैध खनन को बंद कराने की साधु-संतों की मांग पर राज्य सरकार ने ध्यान नहीं दिया। आज एक संत द्वारा आत्मदाह का प्रयास इसी का परिणाम है।