इन लोगों पर अब होगी सख्त कार्रवाई, पर्यटन मंत्री Vishvendra Singh ने दी ये जानकारी

 | 
wishvendra singh

जयपुर। पर्यटन मंत्री विश्वेन्द्र सिंह ने आदि पर्वत और कनकांचल पर्वत के सम्बंध में 20 जुलाई को किए गए समझौते की पालना के सम्बंध में जानकारी दी है। उन्होंने शुक्रवार को भरतपुर के कलेक्ट्रेट में आयोजित कार्यक्रम में बताया कि 20 जुलाई को समझौता हुआ और 21 जुलाई को समझौते के अनुसार 757.40 हैक्टेयर भूमि वन क्षेत्र घोषित कर दिया है। अब इस क्षेत्र में सघन वृक्षारोपण कर पर्यटन गतिविधियों को बढ़ावा दिया जाएगा। 

इस दौरान उन्होंने कहा कि कोई भी व्यक्ति जिले की कानून व्यवस्था और सद्भाव बिगाडऩे की कोशिश करने वाली सोशल मीडिया पोस्ट डालता है या शेयर करता है, भडकाऊ भाषण देता है तो कठोर कार्रवाई की जाएगी। इस सम्बंध में उन्होंने आयोजित कार्यक्रम में मौजूद भरतपुर रेंज आईजी गौरव श्रीवास्तव को निर्देश भी दिए। उन्होंने बताया कि बाबा विजयदास का बेस्ट उपचार किया जा रहा है। हम सभी उनके जल्द स्वस्थ होने की कामना करते हैं।

पर्यटन मंत्री ने बताया कि सीकरी तहसील के 7 राजस्व ग्राम की 662.25 हैक्टेयर सिवाय चक भूमि, पहाडी तहसील के 2 राजस्व ग्राम की 87.19 हैक्टेयर सिवाय चक भूमि(कुल 749.44 हैक्टेयर सिवाय चक भूमि) तथा पहाडी तहसील में 7.96 हैक्टेयर चारागाह भूमि को वन क्षेत्र घोषित कर वन विभाग को हस्तान्तरित कर दी गई है।