राज्य सरकार चारा माफियाओं के खिलाफ अभियान चलाकर सख्त कार्रवाई करें: Rajendra Rathore

 | 
Rajendra Rathore

जयपुर। उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ ने प्रदेश की अशोक गहलोत सरकार से चारे के भीषण संकट के दौरान चारा माफियाओं के खिलाफ अभियान चलाकर सख्त कार्रवाई करने की मांग की है। 

इस संबंध में उन्होंने आज ट्वीट किया कि चारे के भीषण संकट के बावजूद राज्य सरकार पड़ोसी राज्यों के साथ समन्वय स्थापित नहीं कर रही है जो दुर्भाग्यपूर्ण है। मेरी मांग है कि राज्य सरकार चारा माफियाओं के खिलाफ अभियान चलाकर सख्त कार्रवाई करें तथा प्रदेश की सभी ग्राम पंचायतों में चारा डिपो का आवश्यक प्रबंधन करें।

20वीं पशु जनगणना के अनुसार राजस्थान 5.68 करोड़ पशुधन के साथ देश में दूसरे स्थान पर है। चारा माफियाओं ने चारे का अनाधिकृत रूप से स्टॉक कर रखा है जिस वजह से चारे की कीमतें लगभग 13 से 15 रु प्रति किलो जा पहुंची है जो विगत वर्ष महज 6 रु प्रति किलो थी।

राजस्थान के पड़ोसी राज्य यूपी, एमपी, गुजरात व हरियाणा से चारे की आपूर्ति नहीं होने से राजस्थान में हजारों पंजीकृत व अपंजीकृत गौशालाएं चारे के भीषण संकट से जूझ रही है। इस बार प्रदेश में गेहूं की पैदावार कम हुई है जिससे पशुओं के समक्ष चारे का अभूतपूर्व संकट खड़ा हो गया है।