अशांति फैलाने वालों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी चाहे वह व्यक्ति किसी भी वर्ग का हो: Ashok Gehlot

 | 
ak

जयपुर। जोधपुर वर्षों से अपणायत एवं भाईचारे का नायाब उदाहरण रहा है। हाल ही में देश के कई राज्यों में दंगे भडक़े है। कुछ असामाजिक तत्वों द्वारा राजस्थान में भी ऐसे प्रयास किए जा रहे है। सरकार प्रदेश में शांति बनाएं रखने के लिए पूरी तरह सतर्क है। ये बात मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बुधवार को उदयपुर के डबोक एयरपोर्ट पर मीडिया से बातचीत करते हुए की है। 

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रदेश में हुई घटनाओं पर कहा कि कानून व्यवस्था को बनाए रखने को लेकर कोई समझौता नहीं होगा। कहीं तनाव की स्थिति हुई तो कार्रवाई करेंगे। उन्होंने कहा कि अशांति फैलाने वालों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी चाहे वह व्यक्ति किसी भी वर्ग का हो। गहलोत ने कहा कि किसी भी व्यक्ति को कानून व्यवस्था खराब करने का कोई अधिकार नहीं है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि बजट में आमजन को कई जनकल्याणकारी योजनाओं की सौगात दी है। राजस्थान पहला राज्य है जहां सभी नागरिकों को मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के माध्यम से 10 लाख रुपए तक का नि:शुल्क उपचार निजी व सरकारी चिकित्सालयों में उपलब्ध कराया जा रहा है। गहलोत ने कहा कि समस्त सरकारी अस्पतालों में ओपीडी व आईपीडी को पूर्णत: नि:शुल्क कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने बिजली, पानी, सडक़, शिक्षा एवं स्वास्थ्य के क्षेत्र में विकास में कोई कमी नहीं छोड़ी है।