आज ईडी को जिस रूप में मिसयूज कर रहे हैं सरकारों को बदलने के लिए, ये खतरनाक ट्रेंड है: Ashok Gehlot

 | 
gehlot

इंटरनेट डेस्क। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी पर ईडी की कार्रवाई को लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने केन्द्र सरकार पर जमकर निशाना साधा है। इस संबंध में उन्होंने ट्वीट किया कि आज ईडी ने सोनियाजी को बुलाया है जिनके बारे में पूरा देश जानता है कि वो ऐसी नेता हैं जिन्होंने पूरे देश का दिल जीता है, जिस रूप में यूपीए का गठन किया, फील गुड, इंडिया शाइनिंग के नारों को हराया जोकि आर्टिफिशियल थे, मनमोहन सिंह जी को पीएम बनाया, प्रधानमंत्री पद कोई छोड़ सकता है क्या..?

जिन्होंने भारतीय संस्कार-संस्कृति आत्मसात की... क्या-क्या बातें उनके बारे में नहीं कही जा रही थीं जब राजीव जी की शहादत हो गयी थी, एक पारिवारिक महिला के रूप में भी उन्होंने देखा है कि उनकी सास इंदिरा जी की शहादत हुई जो देश की महान नेता थीं, उनके पति राजीव जी शहीद हो गए देश के लिए।

इस सरकार को इतनी भी शर्म नहीं आती है आप किस महिला से किस रूप में व्यवहार कर रहे हैं, ईडी वाले उनके घर जाकर बयान ले सकते थे, कई बार घर जाते हैं बयान लेते हैं, मोतीलाल वोरा जी के बयान लिए थे घर जाकर, पर उनका रवैया बहुत ही निम्न स्तर का है उनको चिंता ही नहीं है देश क्या सोच रहा होगा।

आज ईडी को जिस रूप में मिसयूज कर रहे हैं सरकारों को बदलने के लिए, ये खतरनाक ट्रेंड है। मैं बार-बार कहता हूं देश में संविधान की धज्जियां उड़ रही हैं, लोकतंत्र खतरे में है, पूरे देश के लोग डरे हुए हैं और घुटन महसूस कर रहे हैं, इनको अहसास नहीं है कि कभी जनता का मूड बदल भी सकता है। 

ऐसा केस हाथ में लिया गया है, जिसका हक है ही नहीं ईडी को, मनी लॉन्ड्रिंग कहां हुई है, ईडी को चाहिए कि एक प्रेस कॉन्फे्रंस करे, देश को बताए कि हम राहुल गांधी जी को, सोनिया गांधी जी को क्यों बुला रहे हैं, इनके ऊपर अमुक-अमुक आरोप इस प्रकार के हैं जो कि ईडी में आते हैं।