UP Politics: नाम चमकाने की जल्दबाजी, सड़क बनने से पहले ही उद्घाटन कर आए मंत्री जी

 | 
up politics

राजनीति में अपना नाम चमकाने की ललक हर नेता में होती है। इस चक्कर में कई बार ये राजनेता गलती कर बैठते हैं और इन्हें जनता के आक्रोश का सामना करना पड़ता हैं। कुछ ऐसा ही हुआ है मथुरा जनपद के सौंख क्षेत्र के गांव नगला बेरू में। जहां एक सड़क का निर्माण अभी हुआ भी नहीं है कि यूपी के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य एवं लोक निर्माण राज्यमंत्री चंद्रिका प्रसाद उपाध्याय ने लखनऊ में बैठे-बैठे इस सड़क का लोकार्पण भी कर दिया। 

Keshav Prasad Maurya

दोनों मंत्री महोदय की नाम चमकाने की जल्दबाजी अब इनके लिए महंगी पड़ गई हैं। दोनों की इस हरकत से ग्रामीणों में आक्रोश हैं। बात यही नहीं रुकी डिजिटल लोकार्पण के पश्चात लोक निर्माण विभाग के अधिकारी गांव में शिलापट्टिका भी लगा गए। जोकि लोकार्पण की गाथा साफ-साफ बयां कर रही हैं। 

Chandrika Prasad Upadhyay

दरअसल, समस्या यह है कि उत्तरप्रदेश में विधानसभा चुनाव होने जा रहे है। और हर पार्टी के नेता व पदाधिकारी आचार संहिता लगने से पहले लोकार्पण और शिलान्यास करने में जुटे हुए है। लेकिन यूपी के डिप्टी सीएम और विभागीय मंत्री ने जो कारनामा किया हैं, वह तो और भी गजब हैं। गजब बात यह हैं कि सरकार द्वारा 23 लाख रुपये की धनराशि इसके लिए स्वीकृत हुई थी, जहां अभी मरम्मत भी शुरु नहीं हुई हैं और राजनेताओं ने लोकार्पण कर दिया।