राजस्थान में बनने जा रहा है एक नया टाइगर रिजर्व

 | 
l

राजस्थान में पर्यटन और वाइल्ड लाइफ के लिए खुशखबरी है। राजस्थान में एक और टाइगर रिजर्व के लिए हरी झंडी मिल गई है। आपको बता दें कि इससे पहले राजस्थान में सिर्फ पांच टाइगर रिजर्व थे लेकिन इस खुशखबरी के बाद राजस्थान को छठा रिजर्व भी मिलने वाला है। राजस्थान के पांच रिजर्वों में रणथम्बौर टाइगर रिजर्व, सरिस्का अभ्यारण्य, मुकुंदरा हिल्स टाइगर रिजर्व और रामगढ़ विषधारी वन्य जीव अभ्यारण्य और कुम्भलगढ़ शामिल हैं। 

a

ख़बरों के अनुसार आपको बता दें कि राजस्थान के धौलपुर जिले के सरमथुरा और करौली जिले के कैलादेवी अभ्यारण को जोड़कर जल्द ही नया टाइगर रिजर्व बनाने जा रहा है। इसके लिए वन विभाग ने कवायद भी शुरू कर दी है। आपको बता दें कि सवाईमाधोपुर जिले के रणथंभौर टाईगर रिजर्व में बाघों की संख्या 80 से ऊपर पहुंच गई है। आए दिन होने वाली वर्चस्व की लड़ाई में कई बाघ जान गवां चुके हैं। 

f

ऐसे में अब नया कॉरिडॉर बनने से रणथंभौर के बाघों को भी पर्याप्त जगह मिल पायेगी और आयेदिन बाघों के बीच होने वाले आपसी संघर्ष में कमी आएगी। क्योंकि उन्हें मूवमेंट के लिए रामगढ़ विषधारी टाइगर रिजर्व और धौलपुर-सरमथुरा-करौली टाइगर रिजर्व एरिया मिल जाएगा। इस तरह यह राजस्थान का छठवां और भरतपुर संभाग में दूसरा टाइगर रिजर्व होगा।