Jaipur: किसानों की आर्थिक स्थिति सुधारने के लिए केन्द्र सरकार को महत्वपूर्ण निर्णय लेने होंगे: डॉ. सांवरमल सोलेट

 | 
kisan s

जयपुर। किसानों की आर्थिक स्थिति सुधारने और कृषि को लाभदायक बनाने के लिए केन्द्र सरकार को महत्वपूर्ण निर्णय लेने होंगे। भारतीय किसान संघ के प्रान्त महामंत्री डॉ. सांवरमल सोलेट ने ये बात आज प्रदेश कार्यालय में किसान संघ के जिला कार्यकारिणी को सम्बोधित करते हुए कही।

डॉ. सांवरमल सोलेट ने कहा कि लाभकारी मूल्य लागू होने पर 30 रुपए किलो गेहूं की कीमत मिलने से ही किसान का परिवार चल सकेगा। 1970 में ढाई गेहूं की बोरी में एक तौला सोना मिलता था, लेकिन वर्तमान में सोने की कीमत 50 हजार रुपए पार कर गई है। किसानों की आर्थिक स्थिति बहुत खराब हो चुकी है। किसानों को लाभकारी मूल्य दिलाने के लिए 19 दिसम्बर को दिल्ली के रामलीला मैदान पर गर्जना रैली का आयोजन किया गया है। संभाग प्रचार प्रमुख डॉ लोकेश कुमार चन्देल ने बैठक को लेकर जानकारी दी है।

उन्होंने बताया कि बैठक में जिलाध्यक्ष शैतान सिंह शैरावत , जिला मंत्री लक्ष्मी नारायण यादव ने कहा कि दिल्ली में आयोजित गर्जना रैली में मुख्य मांग कृषि सामानों पर जीएसटी समाप्त किए जाने और प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की राशि बढ़ाई जाने की है। बैठक प्रदेश कार्यालय मंत्री करण सिंह यादव,संभाग विपणन लोकेश, जिला सहकारिता प्रमुख बजरंग लाल शर्मा,  दूदू तहसील अध्यक्ष सुआलाल गोस्वामी,  मौजमाबाद अध्यक्ष आलोक सहरावत, बस्सी तहसील अध्यक्ष हरिनारायण शर्मा, कोषाध्यक्ष सुनील कुमार शर्मा, राजस्व प्रमुख गोपाल लाल शर्मा, संरक्षक धन सिंह मीणा, चौमू तहसील अध्यक्ष हनुमान सिंह नाथावत आदि लोग मौजूद थे।