बालिका शिक्षा के लिए किए गए कार्यों से आज हमारी बेटियां शिक्षा जगत में नए आयाम स्थापित कर रही है: Ashok Gehlot

 | 
ashok gehlot

जयपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अब प्रदेश में शिक्षा के स्तर को लेकर अपनी प्रतिक्रिया दी है। इस संबंध में अशोक गहलोत ने आज ट्वीट किया कि राज्य में शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए अथक प्रयास किये गये हैं। इसके फलस्वरूप आईआईटी, आईआईएम, IIIT, एनआईएफटी, एफडीडीआई, एम्स, NLU, आयुर्वेद विवि, हरिदेव जोशी पत्रकारिता एवं जनसंचार विवि तथा डॉ. बी. आर. अम्बेडकर विधि विवि जैसे प्रतिष्ठित शिक्षण संस्थान आज राजस्थान में संचालित हैं।

निजी क्षेत्र में विश्वविद्यालय खोले जाने की अनुमति से राज्य में शिक्षा का वातावरण बना है और विश्वविद्यालयों की संख्या 6 से बढ़कर 89 हो गई है। इससे राज्य के विद्यार्थियों को अन्य प्रदेशों में जाने के स्थान पर प्रदेश में ही गुणवत्तापूर्ण शिक्षा मिल रही है।

साथ ही मुझे प्रसन्नता है कि राज्य के राजकीय शिक्षण संस्थानों में छात्राओं का नामांकन छात्रों से अधिक हो गया है। बालिका शिक्षा के लिए किए गए कार्यों से आज हमारी बेटियां शिक्षा जगत में नए आयाम स्थापित कर रही है एवं उनमें गजब का आत्मविश्वास है।