President Election: द्रौपदी मुर्मू और यशवंत सिन्हा में से कौन बनेगा अगला राष्ट्रपति, जानें किसका पलड़ा है भारी

 | 
p

इंटरनेट डेस्क। राष्ट्रपति चुनाव के लिए एनडीए ने झारखंड की पूर्व राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू को अपना उम्मीदवार बनाया है। जबकि विपक्ष की ओर से पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा को इस पद के लिए अपना उम्मीदवार घोषित किया गया है।

अब देखना ये है कि इन दोनों नेताओं में से किसके लिए रायसीना हिल्स का रास्ता खुलता है। राष्ट्रपति चुनाव में विधायक, लोकसभा और राज्यसभा सदस्यों द्वारा मतदान किया जाता है। इसमें कुल 4,809 सांसद और विधायकों द्वारा मतदान किया जाएगा। इनके  वोट का मूल्य अलग होता है। 

आकड़ों पर नजर डाले तो एनडीए के लिए अपने उम्मीदवार को राष्ट्रपति बनवाना थोड़ा आसान होगा। बीजेपी के नेतृत्व वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन के पास कुल 10.86 लाख मतों के पचास प्रतिशत से थोड़ा कम 5,26,420 मत हैं। उसे अपने उम्मीदवार को राष्ट्रपति बनाने के लिए उसे केवल 13000 मतों की ही जरूरत है। वह  वाईएसआर कांग्रेस और बीजू जनता दल में किसी एक का समर्थन हासिल कर राष्ट्रपति चुनाव में जीत हासिल कर सकता है।

बीजू जनता दल के पास 31 हजार से अधिक और वाईएसआर कांग्रेस के पास 43,000 से अधिक मत हैं। दोनों दलों की ओर से पिछले राष्ट्रपति चुनाव में भी एनडीए को समर्थन दिया गया था। अभी भी इसी प्रकार की उम्मीद की जा रही है।  वहीं संयुक्त रूप से विपक्षी दलों के पास 5,52,000 से ज्यादा मत हैं।