जैसलमेर सिविल एयरपोर्ट पर हुए बम बिस्फोट,NSG कमांडो के हत्थे चढ़े आतंकवादी

 | 
t

जैसलमेर सिविल एयरपोर्ट बम के धमाकों से गूंज उठा। बम के साथ कुछ आतंकवादियों के सिविल एयरपोर्ट में घुसने की सूचना के साथ ही हुए बम के धमाकों की गूंज से आसपास के इलाकें में दहशत का माहौल बन गया। इसके बाद सिविल एयरपोर्ट में आतंकियों के घुसपैठ की सूचना पर एनएसजी कमांडो के साथ सुरक्षाबलों ने त्रिस्तरीय सुरक्षा चक्र में आतंकियों को घेर लिया। 

दरअसल, यह सब नजारा एनएसजी कमांडों की मॉक ड्रिल का था। जैसलमेर में आतंकी हमले से निपटने के लिए पहली बार एक बड़े लेवल पर मॉक ड्रिल किया गया। मॉक ड्रिल में एनएसजी, एटीएस, क्यूआरटी के साथ-साथ कई एजेंसियों के 500 से ज्यादा लोगों ने हिस्सा लिया। 

मॉक ड्रिल के दौरान भी हकीकत सा नजारा दिखाई दिया। पिछले 2 दिनों से चल रही मॉक ड्रिल के तहत रात को एनएसजी के कमांडो द्वारा सिविल एयरपोर्ट पर मॉक ड्रिल में आतंकवादियों के कब्जे से सिविल एयरपोर्ट को आजाद करवाया गया। 

मॉक ड्रिल में आतंकवादियों के होने की सूचना पर एयरपोर्ट परिसर मे एनएसजी कमांडो पहुंचे। वहीं परिसर के बाहर पुलिस फोर्स और आरएसी के जवानों ने सुरक्षा चक्र बनाया. इसी के साथ एनएसजी के हवाई विमानों ने भी निगरानी रखी। इस दौरान ड्रोन सहित विभिन्न आधुनिक तकनीकी का भी सहारा लिया गया।  जैसलमेर में इन दिनों एनएसजी के कमांडो द्वारा की जा रही मॉक ड्रिल से सिविल एयरपोर्ट सुरक्षा बलों की छावनी में तब्दील नजर आया।